Tuesday, April 13, 2021
Home देश समाचार बंगाल का सियासी घमासान: कोलकाता में अमित शाह बोले- 3 चरणों में...

बंगाल का सियासी घमासान: कोलकाता में अमित शाह बोले- 3 चरणों में ही बंगाल की 68% सीटें जीत लेगी BJP, हमें लोगों का ऐतिहासिक सपोर्ट मिला


  • Hindi News
  • National
  • Home Minister Amit Shah Targets Mamata Banerjee । Campaigning In Kolkata । Forth Phase Of Polling In West Bengal

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोलकाता8 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह।

पश्चिम बंगाल में चौथे फेज की वोटिंग से पहले बयानबाजी का दौर शुरू हो गया है। शुक्रवार को गृहमंत्री अमित शाह चुनाव प्रचार करने कोलकाता पहुंचे। उन्होंने कहा, “बंगाल चुनाव के 3 चरणों में भाजपा को लोगों का ऐतिहासिक समर्थन मिला है। हमारा अनुमान है कि भाजपा इन तीन चरणों में बंगाल में 63 से 68 फीसदी सीटें जीत जाएगी। तृणमूल की हताशा उनके बयानों और हरकतों से साफ नजर आ रही है।

शाह ने कहा कि मैंने अपनी जिंदगी में ऐसा कोई नेता या मुख्यमंत्री ऐसा नहीं देखा जो बयानबाजी में CRPF का घेराव करे। दीदी को पता होना चाहिए कि CRPF चुनाव के समय चुनाव आयोग के अधीन काम करती है। उन्होंने पूछा कि क्या ममता लोगों को अराजकता की ओर ढकेल रही हैं? शाह ने कहा कि मुझे लगता है तृणमूल कांग्रेस का वोटबैंक खिसक रहा है, इसलिए वे अल्पसंख्यकों से एकसाथ आने और वोट करने की अपील कर रही हैं।

मुस्लिमों पर दिए बयान को लेकर ममता को मिला था नोटिस
ममता बनर्जी ने पिछले दिनों एक सभा में कहा था कि अल्पसंख्यक समुदाय को एक होकर वोटिंग करनी चाहिए। उन्होंने कहा था कि मुस्लिम एक हो जाएं और भाजपा को हराने के लिए तृणमूल को वोट दें। इस बयान पर चुनाव आयोग ने ममता बनर्जी को नोटिस भेजा था।

ममता का जवाब- 10 नोटिस दे दें, फिर भी बयान पर कायम हूं
ममता ने EC को दिए जवाब में कहा था कि चुनाव आयोग चाहे 10 नोटिस जारी कर दे, वे अपने बयान पर कायम हैं। नोटिस पर ममता ने गुरुवार को हावड़ा में एक सभा के दौरान भी बयान दिया था। उन्होंने कहा, “मैं उन लोगों के खिलाफ अपनी लड़ाई जारी रखूंगी, जो बंगाल को धर्म और संप्रदाय में बांटना चाहते हैं।’

खबरें और भी हैं…



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments