Friday, April 16, 2021
Home देश समाचार फसल खरीद: अनाज मंडी में 5वें दिन बिका 8500 क्विंटल गेहूं, किसानाें...

फसल खरीद: अनाज मंडी में 5वें दिन बिका 8500 क्विंटल गेहूं, किसानाें काे खुद दिन तय करके गेहूं लाने की छूट


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पानीपत7 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पानीपत. अनाज मंडी में पहुंची गेहूं को साफ करते मजदूर।

  • मंडी में पहुंचे किसानाें ने उठाई मांग : गेहूं की नमी की शर्त पहले की तरह 14% तय की जाए

पानीपत अनाज मंडी में साेमवार काे अब तक की सीजन की सबसे ज्यादा खरीद हुई। सुबह से शाम तक मंडी में 8500 क्विंटल गेहूं खरीदा गया। वहीं, मंडी में गेहूं लेकर पहुंचे किसानाें ने मांग उठाई की गेहूं की नमी की शर्त पहले की तरह 14 प्रतिशत ही तय की जाए। अभी गेहूं की नमी वाली शर्त 12 प्रतिशत तक है। इससे किसानाें काे परेशानी झेलनी पड़ी रही है।

मार्केट कमेटी सचिव नरेश मान ने कहा कि अब किसानाें के लिए सरकार ने बड़ी राहत दी है। अब नए बदलाव के अनुसार किसान खुद ही तिथि तय करके उसी दिन अपना गेहूं लेकर आ सकता है। जैसे किसी किसान के पास 18 अप्रैल काे गेहूं लेकर पहुंचने का मैसेज आया हुआ है, लेकिन उसकी फसल की कटाई 7 अप्रैल काे ही हाे गई है। ताे संबंधित किसान मेरी फसल-मेरा ब्योरा पाेर्टल पर इसी तारीख में गेहूं लेकर आने का मैसेज डाल सकता है। मैसेज स्वीकार हाेते ही इसी दिन फसल लेकर आ सकता है। किसान काे गेट पास कटवाने में भी काेई परेशानी नहीं हाेगी।

रजिस्ट्रेशन के लिए खुला मेरी फसल-मेरा ब्याेरा पाेर्टल

किसानाें के लिए फसल का रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए पाेर्टल खुल चुका है। साेमवार काे पहले दिन काफी किसानाें ने फसल का रजिस्ट्रेशन करवाया। कृषि विभाग के अनुसार जिलेभर में करीब 16,000 किसान हैं। इनमें से 10,000 ने पहले से ही अपना रजिस्ट्रेशन करवा रखा है, बाकी बचे किसानाें काे रजिस्ट्रेशन का माैका देने के लिए पाेर्टल खाेला गया है।

आढ़ती एसाेसिएशन के प्रधान बोले: आढ़ती सीएम से वार्ता के बाद तय करेंगे रणनीति

पानीपत अनाज मंडी आढ़ती एसाेसिएशन के प्रधान धर्मबीर मलिक ने कहा कि मौसम कभी भी खराब हाे सकता है। इसे ध्यान में रखते हुए किसान कंबाइन से भी गेहूं कटवाने में जुटे हुए हैं। मंडी में सरकारी एजेंसियां गेहूं खरीद में किसानाें काे परेशान कर रही हैं। गेहूं में ज्यादा नमी बताकर खरीदारी करने से परहेज किया जा रहा है। आढ़तियाें काे पर्याप्त बारदाना भी नहीं मिल रहा है।

इन समेत अन्य मांगाें काे लेकर आढ़तियों ने करनाल में बैठक की है। इसी बैठक के बाद सीएम ने वार्ता के लिए आढ़तियाें काे बुलाया है। इस वार्ता में भी आढ़तियाें की जायज मांगे नहीं मानी गई ताे एसोसिएशन आगे की रणनीति बनाकर काम करेगी।

खबरें और भी हैं…



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments