Friday, April 16, 2021
Home देश समाचार पाली में लगेगा प्लांट: सीएनडी वेस्ट प्लांट लगाने का प्रोजेक्ट फाइनल, गाजियाबाद...

पाली में लगेगा प्लांट: सीएनडी वेस्ट प्लांट लगाने का प्रोजेक्ट फाइनल, गाजियाबाद की कंपनी को निगम ने सौंपा काम


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फरीदाबाद20 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पाली में खाली पड़ी नगर निगम की सात एकड़ जमीन पर प्लांट लगाया जाएगा।

  • प्लांट लगने से वायु प्रदूषण रोकने में मिलेगा फायदा, रोजाना करीब 300 टन कंस्ट्रक्शन वेस्ट निकलता है

शहर में वायु प्रदूषण को कम करने के लिए नगर निगम ने सीएनडी वेस्ट (कंस्ट्रक्शन एंड डिमोलेशन) प्लांट लगाने का प्रोजेक्ट फाइनल कर दिया है। गाजियाबाद की निजी कंपनी को यह काम सौंपा गया है। पाली में खाली पड़ी नगर निगम की सात एकड़ जमीन पर इसे लगाया जाएगा।

इसके बाद शहर से रोज निकलने वाले करीब 300 टन कूड़े को निस्तारित कर उससे ईंट और टाइल्स बनाई जाएंगी। खास बात यह है कि निगम सीमा क्षेत्र में होने वाले विकास कार्यों में भी टाइल्स और ईंटों का प्रयाेग किया जाएगा। इस प्राेजेक्ट में जापानी तकनीक का प्रयोग किया जाएगा।

निगम प्रशासन का कहना है कि कंपनी को काम सौंपने की कागजी कार्रवाई अंतिम चरण में है। जल्द ही काम अलाट कर दिया जाएगा। दो माह के अंदर प्लांट लगा दिया जाएगा। इसके लगने से जहां सीएनडी वेस्ट का सदुपयोग हो सकेगा वहीं वायु प्रदूषण भी कम होगा।

इस वेस्ट से कंपनी ट्रीट कर बनाएगी ईंट व टाइल्स, इन्हें निगम अपने विकास कार्यों में करेगा उपयोग

फरीदाबाद दुनिया में तीसरे स्थान पर

वायु प्रदूषण के मामले में फरीदाबाद दुनिया में तीसरे स्थान पर पहुंच चुका है। तमाम सरकारी प्रयास वायु प्रदूषण को रोकने में पूरी तरह से फ्लॉप रहे हैं। ऐसे में एनजीटी की फटकार के बाद निगम प्रशासन हरकत में आया। शहर की विभिन्न सड़कों पर फैले सीएनडी वेस्ट को हटाकर उसे निस्तारित करने के लिए प्लांट लगाने की योजना तैयार की गई। प्लांट लगाने का काम अंतिम चरण में है। माना जा रहा है जून तक प्लांट को रन करा दिया जाएगा।

2011 में सरकार ने दिया था आदेश

निगम अधिकारियों की मानें तो सीएंडडी वेस्ट को इकट्ठा कर उसके निस्तारण करने के लिए राज्य सरकार ने वर्ष 2011 में नोटिफिकेशन जारी किया था। इसमें कहा गया था कि निगम कंस्ट्रक्शन वेस्ट को निस्तारित करने लिए कदम उठाए। चूंकि फरीदाबाद और गुड़गांव दोनों जिले सबसे प्रदूषित शहरों की सूची में आते हैं। इसलिए इन दोनों जिलों में ज्यादा जोर दिया गया। गुड़गांव ने प्लांट लगा दिया लेकिन फरीदाबाद में अभी प्लांट नहीं लग पाया।

सीएनडी वेस्ट की धूल बढ़ाती प्रदूषण

जानकारों की मानें तो कंस्ट्रक्शन वेस्ट की धूल हवा में मिलकर आरएसपीए 2.5 की मात्रा को बढ़ा देती है। लेकिन लोगों को इस बात की जानकारी नहीं है। शहर में बाइपास रोड के किनारे, सेक्टर 15, 16 के पास, 4 नंबर स्थित केंद्रीय वॉटर बोर्ड ऑफिस के साथ में, एनआईटी के प्रमुख सड़कों पर कंस्ट्रक्शन वेस्ट पड़ा आसानी से देखा जा सकता है। यदि इनका निस्तारण किया जाए तो प्रदूषण पर काफी हद तक रोक लगाई जा सकती है।

निगम सीएंडडी वेस्ट प्लांट पाली स्थित सात एकड़ खाली जमीन पर बनाएगा

नगर निगम के एसई रवि शर्मा के अनुसार निगम सीएंडडी वेस्ट प्लांट पाली स्थित सात एकड़ खाली जमीन पर बनाएगा। यह कार्य गाजियाबाद की एक प्राइवेट फर्म को सौंपा जाएगा। उन्होंने बताया प्लांट में दो तरह से कंस्ट्रक्शन वेस्ट का प्रयोग होगा।

पहला तो घरेलू वेस्ट और दूसरा बिल्डर, कमर्शियल आदि से निकलने वाला कंस्ट्रक्शन वेस्ट। उन्होंने कहा जो कंपनी प्लांट लगाएगी वही लोगों के घर से सीएनडी वेस्ट उठाएगी। इसके लिए एक टोल फ्री नंबर भी जारी किया जाएगा। लोग उस पर फोन कर वेस्ट उठवा सकेंगे। जल्द ही इसे शुरू कर दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं…



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments