Sunday, April 18, 2021
Home देश समाचार देश के आधे राज्य टेस्ट में फेल: 36 राज्य और केंद्र शासित...

देश के आधे राज्य टेस्ट में फेल: 36 राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में से आधे 50 फीसदी टेस्ट भी आरटी-पीसीआर से नहीं कर रहे


  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • Modi Reiterated 70 Percent Of The Tests In The States Should Be RT PCR, Not Even Half The Tests In 18 States

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्लीएक घंटा पहलेलेखक: पवन कुमार

  • कॉपी लिंक

कोरोना संक्रमण पर लगाम के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को मुख्यमंत्रियों से बातचीत में फिर कहा कि कुल टेस्ट के 70% टेस्ट आरटी-पीसीआर ही किए जाएं। इसके बावजूद राज्य रैपिड एंटीजन टेस्ट पर भरोसा कर रहे हैं और संक्रमण बढ़ता जा रहा है।

महाराष्ट्र, पंजाब, गुजरात, छत्तीसगढ़ ने फरवरी से अप्रैल के बीच में आरटी-पीसीआर टेस्ट लगातार घटाए हैं। ये भी एक वजह है कि इन राज्यों में संक्रमण तेजी से बढ़ा है। फरवरी तक देश में औसत 58% टेस्ट आरटी-पीसीआर से हो रहे थे। अब संक्रमण हावी हो चुका है, तब भी देश में 61% टेस्ट ही आरटी-पीसीआर से हो रहे हैं।

36 राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में से आधे ऐसे हैं, जो 50% टेस्ट भी आरटी-पीसीआर से नहीं कर रहे हैं। सिर्फ 12 राज्य ऐसे हैं, जो 70% या ज्यादा आरटी-पीसीआर टेस्ट कर रहे हैं। पांच राज्य ऐसे हैं, जो 50% से अधिक, लेकिन तय मात्रा से कम आरटी-पीसीआर कर रहे हैं। 12 राज्य 40% या कम आरटी-पीसीआर टेस्ट कर रहे हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि राज्यों में आरटी-पीसीआर टेस्ट कम हो रहे हैं। 70% टेस्ट आरटी-पीसीआर होने चाहिए।

आरटी-पीसीआर ही क्यों?

आईसीएमआर वैज्ञानिक डॉ. समीरन पांडा के मुताबिक, एंटीजन टेस्ट में सेंसिटिविटी कम होती है। कई बार गलत रिपोर्ट आने की आशंका रहती है। मरीज में लक्षण न दिखे तो एंटीजन टेस्ट ज्यादा कारगर नहीं होता। लक्षण वाले मरीजों में यह ज्यादा कारगर है। जहां जल्द जांच करने की जरूरत हो, वहां एंटीजन टेस्ट होना चाहिए।

इसके नतीजे 15 मिनट में आ जाते हैं। ऐसे मरीज जिनमें लक्षण हों लेकिन एंटीजन में रिपोर्ट निगेटिव आई हो, उनका आरटी-पीसीआर टेस्ट अनिवार्य करने के निर्देश दिए हैं। आरटी-पीसीआर टेस्ट कम होने से इसका खतरा बना रहता है।

बीते दिन देश में मिले थे 1,26,789 नए केस

देश में बुधवार को कोरोना संक्रमण के रिकॉर्ड 1,26,789 नए केस सामने आए। वहीं 685 मौतें हुईं। गुरुवार को केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन संक्रमित हो गए। 10वीं और 12वीं के एक लाख से अधिक स्टूडेंट्स ने ऑनलाइन पिटिशन पर हस्ताक्षर कर मांग की है कि मई में होने वाली बोर्ड परीक्षाएं रद्द की जाएं या ऑनलाइन हों। वहीं मप्र के शहरी क्षेत्रों में आज शुक्रवार शाम 6 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन रहेगा।

खबरें और भी हैं…



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments