Monday, April 19, 2021
Home देश समाचार डाबड़ा में लोगों ने पंचायत कर चेताया: भाजपा-जजपा का काेई विधायक गांव...

डाबड़ा में लोगों ने पंचायत कर चेताया: भाजपा-जजपा का काेई विधायक गांव में आया ताे बुलाने वाले का हुक्का-पानी बंद कर लगाया जाएगा ‌5100 का जुर्माना


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हिसार6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

हिसार। गांव डाबड़ा में विधायक जोगीराम सिहाग के दौरे के बाद ग्रामीणों ने एक पंचायत बुलाई। पंचायत में ग्रामीणों ने विधायक के दौरे को लेकर ऐतराज जताया और भविष्य में भाजपा-जजपा नेताओं के बुलाने पर विरोध की चेतावनी दी।

  • विधायक जाेगीराम बाेले- मेरे संज्ञान में नहीं काेई जानकारी, हलके के गांवाें में जाते रहते हैं, विरोध जैसी कोई बात नहीं

कृषि कानूनों के विरोध में ग्रामीण एकजुट हैं। डाबड़ा गांव में बरवाला के विधायक जोगीराम सिहाग के दौरे के बाद ग्रामीणों ने पंचायत बुलाकर भाजपा-जजपा नेताओं को चेतावनी दी है कि गांव में आने पर उनके कार्यक्रम का बहिष्कार किया जाएगा।

डाबड़ा में किसानाें ने पंचायत में दाे टूक कहा कि यदि गांव में सत्तापक्ष का काेई मंत्री अथवा विधायक को बुलाएगा ताे उसका हुक्का पानी बंद कर दिया जाएगा। साथ ही 5100 रुपए जुर्माना लगाया जाएगा। गांव के किसानाें ने बैठक कर बुधवार को इस फैसले का ऐलान किया है। मिली जानकारी के अनुसार जाेगीराम सिहाग अपने किसी समर्थक के बुलावे पर मंगलवार काे बरवाला विधानसभा हलके के गांव डाबड़ा गए थे।

जाेगीराम के अाने की सूचना ग्रामीणाें काे मिली ताे ग्रामीण विराेध में एकत्रित हाे गए। हालांकि जाेगीराम सिहाग गांव का दाैरा कर निकल गए थे, लेकिन बुधवार काे ग्रामीणाें ने पंचायत कर फैसला लिया कि भविष्य में भाजपा या जजपा का विधायक अथवा मंत्री गांव में किसी ने बुलाया ताे उसका हुक्का पानी बंद किया जाएगा। साथ ही 5100 रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा।

मंगलवार को विधायक जाेगीराम ने गांव में दौरा किया था, ग्रामीण विरोध करने पहुंचे तो जा चुके थे, बुधवार को पंचायत बुलाई

मुझे ताे साेशल मीडिया से पता चला : जाेगीराम

गांव डाबड़ा में किसानाें व ग्रामीणाें द्वारा विरोध करने के ऐलान के बारे में बात की ताे जाेगीराम ने इससे इनकार करते हुए कहा कि ऐसा काेई मामला उनके संज्ञान में नहीं है। उन्हाेंने ताे यह सूचना साेशल मीडिया पर ही पढ़ी है। साथ ही कहा कि वह ताे अपने हलके के गांवाें में जाते रहते हैं, लेकिन उनके सामने बायकाट या विराेध जैसी काेई बात नहीं आई।

विरोध का ऐलान है तो नहीं पहुंचना चाहिए : दिलबाग

भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश महासचिव दिलबाग सिंह हुड्डा ने किसानाें के समर्थन में बाेलते हुए कहा कि तीन कृषि कानूनाें काे लेकर जब किसानाें ने भाजपा और जजपा का विराेध किया हुआ है ताे इन पार्टी के नेताओं काे किसी कार्यक्रम में जाना ही नहीं चाहिए। इसलिए सत्तापक्ष के नेताओं काे इस सबसे बचना चाहिए।

खबरें और भी हैं…



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments