Thursday, April 15, 2021
Home देश समाचार टिकैत का बयान: किसानों से शाहीन बाग जैसा सलूक न करे सरकार,...

टिकैत का बयान: किसानों से शाहीन बाग जैसा सलूक न करे सरकार, बातचीत के लिए सरकार की कॉल का इंतजार


  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • The Government Should Not Treat Farmers Like Shaheen Bagh, Waiting For The Government’s Call For Talks

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एजेंसी/यमुनानगर/पांवटा साहिब10 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

यमुनानगर पहुंचे राकेश टिकैत।

संयुक्त किसान मोर्चा के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि किसानों के साथ सरकार दिल्ली के शाहीन बाग जैसा रवैया न अपनाए। किसान तीनों कानून रद्द होने के बाद ही घर जाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनकारी किसान कोरोना के नियमों का पालन करेंगे और जरूरत पड़ने पर 2023 तक आंदोलन जारी रखेंगे।

केंद्र के कृषि कानून किसानों के लिए नुकसान का सबब बनेंगे। टिकैत ने दोहराया कि किसान सरकार से बात करने के लिए तैयार हैं। जब भी सरकार के पास समय होता है, हम बात करने के लिए तैयार होते हैं। हम उनकी कॉल का इंतजार करेंगे।

हिमाचल के पांवटा में जाते हुए टिकैत रास्ते में यमुनानगर के खिजराबाद में चूहड़पुर कलांं में रुके। यहां उन्होंने कहा कि किसानों से संपर्क करने के बाद दिल्ली में बड़ी रैली करने पर विचार किया जाएगा। अभी कोई तारीख तय नहीं की है। संयुक्त किसान मोर्चा के निर्णय पर संसद कूच का समय तय किया जाएगा।

हिमाचल में कहा- सरकार का काम राम मंदिर निर्माण नहीं, विकास कराना है

किसान नेता टिकैत ने कहा कि सरकार का काम मंदिर का निर्माण नहीं है, देश में विकास का काम करवाना है। सरकार ने देश की जनता को मंदिर के काम में उलझा दिया है। वह पांवटा साहिब में जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार में चौकीदार नहीं, चोरों की सरकार है। दिल्ली में लुटेरे बैठे हैं, किसानों की मांगों को पूरा नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि किसान बड़े आंदोलन के लिए तैयार रहें बड़े-बड़े ट्रैक्टर तैयार रखें, यह आंदोलन तब तक खत्म नहीं होगा, जब तक कानूनों रद्द नहीं होते।

खबरें और भी हैं…



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments