Wednesday, April 14, 2021
Home देश समाचार ज्ञापन देने जाने के दौरान हुआ विवाद: कांग्रेस में फिर दिखी गुटबाजी,...

ज्ञापन देने जाने के दौरान हुआ विवाद: कांग्रेस में फिर दिखी गुटबाजी, बीच सड़क पर कांग्रेस के दो पूर्व मंत्री भिड़े


  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • Factionalism Again Seen In Congress, Two Former Congress Ministers Clash On The Road On The Middle Road

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गुरुग्राम3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

कार्यकर्ताओं ने मामला कराया शांत।

  • महिला नेता एवं कार्यकर्ताओं ने कराया दोनों के बीच बचाव

कांग्रेस में गुटबाजी बार-बार सामने आती रहती है। बुधवार को कांग्रेस के दो पूर्व मंत्री उस समय भिड़ गए जब कांग्रेस के नेता व कार्यकर्ता ज्ञापन देने जा रहे थे। उसी समय दोनों नेताओं में पांच मिनट तक तीखी बहस हुई। कांग्रेस के नेता गत अप्रैल को रोहतक में हुए मामले को लेकर बुधवार दोपहर करीब एक बजे राज्यपाल के नाम डीसी को ज्ञापन देने जाते समय पूर्व मंत्री कैप्टन अजय यादव व पूर्व खेल मंत्री सुखबीर कटारिया के बीच काफी देर तक बहस होने के बाद कांग्रेस की एक महिला नेता व अन्य नेताओं ने बीच-बचाव कराया। अगर दोनों को रोका नहीं जाता तो नौबत हाथापाई तक पहुंच सकती थी। हालांकि बाद में दोनों नेताओं में बहसबाजी को केवल बातचीत बताया।

दरअसल, विवाद प्रदर्शन के लिए कार्यकर्ताओं को जुटाने के लिए जगह बदले जाने को लेकर हुआ। कैप्टन अजय यादव की ओर से कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को कमान सराय स्थित कांग्रेस कार्यालय में सुबह 10 बजे बुलाया गया था। जबकि पूर्व मंत्री सुखबीर कटरिया की ओर से जारी मैसेज में सभी को सुबह 11 बजे मोर चौक के पास एकत्र होने का संदेश दिया था। ऐसे में दोनों नेताओं के बुलावे में एक घंटे का अंतर होने से कार्यकर्ता भ्रमित हो गए। ऐसे में कुछ कार्यकर्ता कांग्रेस कार्यालय पहुंचे तो कुछ मोर चौक पर पहुंच गए।

दोनों पूर्व मंत्री बीच सड़क पर भिड़े

दोनों जगहों से कार्यकर्ता लघु-सचिवालय की ओर चले तो 100 मीटर पहले कैप्टन अजय यादव व सुखवीर कटरिया का आमना-सामना हुआ। कैप्टन तल्खी से जगह बदलने के लिए वजह पूछी तो सुखबीर ने भी उसी लहजे में जवाब दिया। जिसके बाद एक दूसरे का पार्टी में कद व कार्यकर्ताओं पर पकड़ पर भी बहस हो गई। कई बार मंत्री रहे अजय यादव अपनी वरिष्ठता को लेकर कटारिया को झिड़कते दिखे तो कटारिया भी पूर्व मुख्यमंत्री हुड्‌डा की नजदीकी के दम पर कैप्टन की बातों को उसी अंदाज में जवाब देते नजर आए। मौके की नजाकत देख पूजा शर्मा ने अन्य नेताओं ने अलग किया फिर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते लघु-सचिवालय पहुंच राज्यपाल के नाम उपायुक्त को ज्ञापन दिया।

खबरें और भी हैं…



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments