Monday, April 19, 2021
Home देश समाचार कोरोना का कहर: 100 टेस्ट में मिल रहे 12 संक्रमित, 10 छात्र...

कोरोना का कहर: 100 टेस्ट में मिल रहे 12 संक्रमित, 10 छात्र सहित 222 नए केस व एक की मौत, मेडिकल कॉलेज में सर्जरी बंद


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

करनाल6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

कोरोना केसों के बढ़ने के साथ अस्पतालों में सैंपलिंग कराने के लिए लोगों की भीड़ बढ़ने लगी है

  • मेडिकल कॉलेज में 3 आईसीयू फुल, चौथा भी भरने वाला है, बढ़ाई जा रही व्यवस्था
  • कोरोना केसों के बढ़ने के साथ अस्पतालों में सैंपलिंग कराने के लिए लोगों की भीड़ बढ़ने लगी है

करनाल में कोरोना की रफ्तार बढ़ती जा रही है। बुधवार को भी 10 छात्रों समेत 222 केस मिले हैं और एक व्यक्ति की मौत हो गई है। बढ़ रहे केसों का आलम यह है कि कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में तीन आईसीयू फुल हो गए हैं और चौथा भी भरने वाला है। संक्रमितों की संख्या को देखते हुए और इंतजाम किए जा रहे हैं अस्पताल में इलेक्टिव सर्जरी बंद हो गई है।

मरीजों को किसी प्रकार की परेशानी न हो इसके लिए अगले सप्ताह से डायलिसिस सेंटर भी शुरू कर दिया जाएगा। अप्रैल में अबतक पॉजिटविटी बीते साल पीक माने जा रहे सिंतबर से ज्यादा हो गई है। बीते सितंबर में पॉजिटिविटी रेट 12.7 रहा था। अब अप्रैल के पहले सप्ताह में 12.38 पॉजिटिविटी रेट चल रहा है। यह अबतक की सबसे ज्यादा दर है।

निमोनिया की शिकायत पर भर्ती

दया नगर करनाल के 45 साल के कोरोना पॉजिटिव की मौत हो गई। उसका जीरकपुर के अस्पताल में इलाज चल रहा था। उसको निमोनिया होने पर भर्ती किया गया था।

इलेक्टिव सर्जरी होगी बंद

कोरोना के गंभीर पेसेंट ज्यादा होने से मेडिकल कॉलेज ने इलेक्टिव सर्जरी जल्द ही बंद कर दी जाएगी। यहां रोजाना 12 से 15 प्रतिदिन सर्जरी होती थी। इसमें हार्निया, अपैंडिक्स, बच्चेदानी में रसोली, बवासीर, कान, आंख, मुंह की सर्जरी, आर्थो ऑपरेशन शामिल थे। नागरिक अस्पताल में यह सुविधा जारी रहेगी।

मेडिकल कॉलेज में कोरोना मरीजों की संख्या 100 से पार, बढ़ाए जा रहे वार्ड

मेडिकल कॉलेज में एक आईसीयू में काम चल रहा था। मार्च में केस ज्यादा आए तो दो और आईसीयू शुरू करने पड़े। वह भी फुल हो गए। एक अाईसीयू में 12 मरीज रखे जा रहे हैं। अप्रैल में चौथा आईसीयू शुरू किया गया। इसमें छह मरीज दाखिल हो चुके हैं।

कल्पना चावल मेडिकल कॉलेज में कोरोना के मरीजों की संख्या 100 से ज्यादा पहुंच गई है। पांचवीं और छठी मंजिल पर संक्रमितों का इलाज किया जा रहा है। पहले यहां पर नॉनकोविड मरीजों को भी दाखिल किया जा रहा था। अब इन्हें यहां से शिफ्ट किया गया है।

जानिए, जिले में इस माह कितने तेजी से बढ़ रही पॉजिटिविटी रेट

तारीख सैंपल पॉजिटिव पॉजिटिविटी रेट

  • 31 मार्च 2146 214 9.92
  • 1 अप्रैल 2004 260 12.97
  • 2अप्रैल 2005 274 13.6
  • 3अप्रैल 1630 185 11.3
  • 4अप्रैल 1107 200 18.6
  • 5 अप्रैल 1894 137 7.23
  • 6अप्रैल 1758 222 12.6
  • कुल 12044 1492 12.38

मिलेगी राहत: डायलिसिस सेंटर की अगले सप्ताह होगी शुरुआत

डायरेक्टर डॉ. जगदीश चंद्र दुरैजा ने बताया कि अगले सप्ताह से कॉलेज में डायलिसिस सेंटर की शुरुआत होगी। जिले के मरीजों को इसके लिए प्राइवेट अस्पतालों में नहीं जाना पड़ेगा। इसका अंदरूनी काम शुरू हो गया है। प्राइवेट में 10 से 12 हजार रुपए का खर्च आता है। लेकिन सरकारी में यह खर्च बहुत कम होगा।

44 माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए

सीएमओ डा. योगेश शर्मा ने बताया कि माइक्रो कंटेमेंट जोन बनाए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम 24 घंटे निगरानी कर रही है। जो भी व्यक्ति कोविड-19 के नियमों का उल्लंघन करेगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बुधवार को 2002 को लोगों को कोरोना के टीके लगवाए गए।

खबरें और भी हैं…



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments