Tuesday, April 13, 2021
Home देश समाचार किसानों ने एफसीआई के गेट पर दिया धरना: एफसीआई के गाेदाम निजी...

किसानों ने एफसीआई के गेट पर दिया धरना: एफसीआई के गाेदाम निजी कंपनी काे बेचने की साजिश है : भाकियू


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पानीपत6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पानीपत. गोहाना रोड शुगर मिल के सामने एफसीआई के गोदाम के गेट के बाहर प्रदर्शन करते भारतीय किसान यूनियन के नेता व किसान।

संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर भाकियू, किसानों व कई अन्य संगठनों ने एफसीआई के गाेदाम के गेट पर धरना देकर केंद्र सरकार के खिलाफ राेष जताया। किसानाें का आराेप है कि केंद्र सरकार जानबूझकर गलत नीतियां बनाकर देश की प्रमुख खाद्यान एजेंसी एफसीआई काे कर्जवान बना रही है। एफसीआई के गाेदामाें काे निजी कंपनियाें काे बेचने के लिए ऐसा किया जा रहा है।

गोहाना रोड पर शुगर मिल के सामने स्थित एफसीआई के गोदामों के बाहर साेमवार सुबह 11 से शाम 5 बजे तक भाकियू व किसानाें ने धरना दिया। इस दाैरान काेई ट्रक का आना जाना न हाे, इसके लिए गेट बंद करवा दिया। धरने अध्यक्षता भाकियू जिला प्रधान कुलदीप बलाना ने की। उन्हाेंने कहा कि एमएसपी पर किसानों का गेहूं हर साल 14 प्रतिशत नमी तक भी खरीदा जाता था।

इस बार नमी 12 प्रतिशत तक कर दी है। इससे किसानों को गेहूं बेचने में दिक्कत आ रही है। प्रधान कुलदीप ने कहा कि देश की प्रमुख खाद्यान एजेंसी एफसीआई को केंद्र सरकार घाटे में दिखा रही है। सरकार के मंत्रियाें ने निजी कंपनियाें से माेटी रकम खा ली है। बड़े पूंजीपतियों काे सरकारी गाेदाम सौंपे जा रहे हैं।

एफसीआई काे घाटे में दिखाने की साजिश

मैसेज भेजकर फसल मंगवाने की प्रक्रिया गलत : किसानों को शेड्यूलिंग मैसेज भेजकर अनाज मंडी में गेहूं मंगवाने की प्रक्रिया बहुत ही गलत है। इसे तुरंत प्रभाव से बंद किया जाए। इससे किसानों को भारी दिक्कत हो रही है। हमारी प्रदेश सरकार से मांग है कि जिस भी किसान ने मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर अपने गेहूं का पंजीकरण करवाया देता है, उसी जिस दिन अनाज मंडी में अपना गेहूं लेकर आए। उसी दिन गेटपास भी कट जाए।

सरप्लस गन्ना शुगर मिलाें में डलवाया जाए : जिला के किसानों का 9 लाख क्विंटल गन्ना सरप्लस बताकर पहले रोहतक, शाहाबाद और फिर असंध के फफड़ाना शुगर मिल में ट्रांसफर किया गया था। इन शुगर मिलों ने पानीपत के किसानों का सरपल्स गन्ना नहीं लिया।

भाकियू की मांग है कि सरप्लस गन्ना तीनों शुगर मिलों में डलवाया जाए। इस अवसर पर जयकरण कादियान, बिंटू मलिक, मास्टर ईश्वर सिंह, तेजपाल, जयपाल कुराना, सुरत सिंह, देवी सिंह, राजबीर, सत्यनारायण बांगड़, पृथ्वी सिंह, कर्ण सिंह कादियान व अग्निवेश मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं…



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments