Monday, April 19, 2021
Home देश समाचार अवमानना के मामले में सर्वोच्च न्यायालय की टिप्पणी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा...

अवमानना के मामले में सर्वोच्च न्यायालय की टिप्पणी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा -अफसरों को कोर्ट में लगातार तलब करना ठीक नहीं


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली20 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

अवमानना के मामले में सर्वोच्च न्यायालय की टिप्पणी

बड़े अफसरों को कोर्ट लगातार और सामान्य तरीके से तलब करे इसकी सराहना नहीं जा सकती। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को यह टिप्पणी अवमानना के एक मामले में सुनवाई के दौरान की। दरअसल, अवमानना ​के एक ​मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यूपी के अफसरों को समन जारी कर व्यक्तिगत रूप से तलब किया था। यूपी सरकार ने इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल की थी।

सुनवाई के दौरान जस्टिस संजय किशन कौल और हेमंत गुप्ता की पीठ ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने जब अवमानना के आदेश पर पहले ही रोक लगा दी थी, तब अफसरों को बुलाने का कोई कारण नहीं बनता। इसलिए अवमानना का कोई प्रश्न ही नहीं था। यह अफसरों का अनावश्यक उत्पीड़न है।

पीठ ने हाईकोर्ट को आगाह किया कि वह अपनी शक्ति का इस्तेमाल जिम्मेदारी के साथ करे और केवल विवशता की स्थितियों में ही अफसराें काे आने के लिए कहे, न कि उन्हें अपमानित करने के लिए। पीठ ने कहा कि यदि कोर्ट के आदेश का अनुपालन नहीं किया जाता है, तो अधिकारियों की उपस्थिति को निर्देशित किया जा सकता है।

खबरें और भी हैं…



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments